Breaking News
Home / राजनीतिक / कभी गिराई थी कांग्रेस और भाजपा की सरकार वैसे ही गिर गई कुमारस्‍वामी सरकार

कभी गिराई थी कांग्रेस और भाजपा की सरकार वैसे ही गिर गई कुमारस्‍वामी सरकार

चैनल हिन्दुस्तन डेस्क: कर्नाटक के मुख्‍यमंत्री एचडी कुमारस्‍वामी का राजनीतिक करियर काफी उतार-चढ़ाव भरा रहा है। अपने इस राजनीतिक करियर में वो दो बार राज्‍य के मुख्‍यमंत्री भी बनें। लेकिन, दोनों ही बार कार्यकाल पूरा करने में विफल रहे। पहली बार वह 4 नवंबर 2006 से लेकर 4 अक्‍टूबर 2007 तो दूसरी बार उन्‍होंने 23 मई 2018 को उन्‍होंने राज्‍य की कमान संभाली थी। लेकिन यह सरकार भी 14 माह के बाद 23 जुलाई 2019 को गिर गई। इस दौरान कई दिनों तक सरकार के विश्‍वास मत को लेकर ड्रामा चला।

गिराई कांग्रेस की सरकार

2004 के विधानसभा चुनाव में राज्‍य में किसी दल को बहुमत नहीं मिला था। ऐसे में कांग्रेस और जेडी (एस) के बीच समझौता हुआ, जिसके बाद कांग्रेस के धरमसिंह को राज्‍य का मुख्‍यमंत्री बनाया गया। लेकिन यह भी सरकार ज्‍यादा समय तक नहीं चली और कुमारस्‍वामी ने 42 विधायकों के साथ समर्थन वापस लेकर धरमसिंह की सरकार गिरा दी थी। 28 जनवरी 2006 में कुमारस्‍वामी को राज्‍यपाल ने सरकार बनाने के लिए आमंत्रित किया था।

गिराई भाजपा सरकार

2006 में उन्‍होंने पहली बार भाजपा के साथ मिलकर सरकार बनाई थी। इस दौरान दोनों पार्टियों के बीच सरकार बनाने से पहले सहमति बनी थी‍ कि दोनों पार्टियों के नेता बारी-बारी से और बराबर समय के लिए सीएम बनेंगे। लेकिन जब सत्‍ता भाजपा को सौंपने की बारी आई तो कुमारस्‍वामी ने ऐसा करने से इनकार कर दिया और राज्‍यपाल को अपना इस्‍तीफा सौंप दिया। इसके बाद राज्‍य में दो दिनों तक राष्‍ट्रपति शासन लगाया गया था। दो दिन बाद 12 नंवबर 2007 को में राज्‍य में येदियुरप्‍पा के नेतृत्‍व में भाजपा ने सरकार बनाई जिसको कुमारस्‍वामी ने बाहर समर्थन दिया था। लेकिन कुछ दिन बाद ही समर्थन वापस लेने के साथ ही येदियुरप्‍पा की सरकार गिर गई।

Spread the love

About desk

Check Also

प्रधानमंत्री मोदी ने पढ़ाया सांसदों काे पाठ, कहा – भाजपा अपनी विचाराधारा और सोच के कारण आगे बढ़ी

चैनल हिंदुस्तान डेस्क: भाजपा के लोकसभा और राज्‍यसभा सांसदों के लिए शनिवार को दो दिवसीय …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *