Breaking News
Home / राज्य / उत्तर प्रदेश / नरेंद्र मोदी ने श्रीकृष्ण की धरती से पशुओं को रोग मुक्त बनाने का लिया संकल्प

नरेंद्र मोदी ने श्रीकृष्ण की धरती से पशुओं को रोग मुक्त बनाने का लिया संकल्प

चैनल हिंदुस्तान डेस्क: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मंच पर पहुंचते ही पंडाल मोदी-मोदी के नारों से गूंजा। पीएम मोदी हाथ हिलाकर और जोड़कर सभी का अभिवादन किया। सबसे पहले पीएम मोदी ने ‘स्वच्छता ही सेवा’ का शुभारंभ किया। इस बार यह अभियान प्लास्टिक के खिलाफ चलाया जा रहा है, जो 11 सितंबर से 2 अक्टूबर तक चलेगा।पीएम मोदी ने पशुपालन और दुग्ध उत्पादन के क्षेत्र में विभिन्न योजनाओं का भी शुभारंभ किया।

भगवान और श्रीकृष्ण और राधा जी के धरती को नमन करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि पवन ब्रज भूमि की पवित्र माटी को प्रणाम करता भये सब ब्रज वासिन को मेरी राधे-राधे। नए जानदेश के बाद कान्हा की नगरी में पहली बार आने का अवसर मिला है। आपके सहयोग और देश हित में निर्णय लेने के लिए आपका आभार व्यक्त करता हूं। बीते सौ दिनों में हमने अभूतपूर्व कार्य किए। बृज भूमि ने सदा ही पूरी मानवता को प्रेरित किया है। पर्यावरण के लिए सब भटक रहे। कृष्ण का पर्यावरण प्रेम जगजाहिर है। कालिंदी, बैजंतीमाला, बांसुरी, मोरपंख के बिना कल्पना नहीं। आज आपके पास भगवान श्रीकृष्ण जैसा आदर्श रहा है, जिसकी बिना पर्यावरन की कल्पना ही बेमानी है। दूध दही माखन के बिना बाल गोपाल की कल्पना कोई नहीं कर सकता है। कृषि, पशुधन का संतुलन बिना आगे बढ़ना संभव नहीं।

उन्होंने कहा कि स्वच्छता ही सेवा का शुभारंभ हुआ है। इसके साथ ही पशु के पोषण और संवर्धन और अन्य मूलभूत सुविधा से जुडी सेवाओं का शुभारंभ हुआ है। उन्होंने कहा गांधी जी की 150वीं जयंती प्रकृति, स्वच्छता के प्रति लगाव था। उसको अपनाने का संकल्प ही सच्ची श्रद्धांजलि। प्लास्टिक कचरा पशुधन, जलीय जीवों को खतरा है। उन्होंने हम सिंगल यूज प्लास्टिक से मुक्ति का संकल्प दिलाया। आपकी संतानों के उज्जवल भविष्य के लिए यह करना ही होगा। कहा कि जो कचरा री-साइकिल नहीं हो सकता है, उन्हें सीमेंट फैक्ट्रियों और सड़कों को बनाने में किया जाएगा। प्लास्टिक अलग करने वाली महिलाओं से मिला। कचरे से कंचन की सोच ही हमें इस अभियान से आगे ले जाएगी। कचरे से कंचन की सोच ही हमारे वतावरण को स्वच्छ बनाएगी। बाजार जाएं तो झोला लेकर जाएं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि स्वच्छता और स्वास्थ्य की दिशा में योगी सरकार का कार्य प्रशंसनीय है।इंसेफ्लाइटिस की दिशा में योगी सरकार ने सराहनीय कार्य किया। गंभीर बीमारी को स्वच्छता के माध्यम से काबू किया। मस्तिष्क ज्वर के कारण पार्लियामेंट में योगी जी दर्दनाक कथा सुनाकर देश को जगाने की कोशिश करते थे। पीएम ने कहा कि जल जीवन मिशन के माध्यम से जन-जन तक पहुंचाने का कार्य किया जाएगा। इससे खर्च घटेगा, सुविधा मिलेगी। पशुधन के क्षेत्र में निवेश अधिक लाभ देने वाला है। गोकुल मिशन और अब कामधेनु आयोग का गठन इसी दिशा में एक प्रयास है। इसके माध्यम से किसान, पशुपालकों की आय बढ़ी है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि 5 साले में दूध के उत्पादन में 7 फीसद वृद्धि हुई है। उन्होंने कहा कि सरकार बनने के बाद सौ दिन में जो कड़े फैसले लिए गए इनमें एक पशुओं का टीकाकरण भी है। हमारे पशु बार बार बीमार न हों, इसीलिए आज 13 हजार करोड़ की योजना की शुरूआत की गई। इससे खुरपका और मुंहपका से निजात मिलेगा। 51 करोड़ गाय भैंस और अन्य को साल में 2 बार टीके लगेंगे। जिनका टीकाकरण होगा उन्हें यूनिक आइडी देकर कान में टैग लगाया जाएगा। उन्होंने कहा कि स्टार्टअप ग्रांड चेलेंज से युवा जुड़ें। प्लास्टिक का विकल्प तलाशें। नए आइडिया लाइए। देश की समृद्धि का रास्ता देश की मिट्टी से ही निकलेगा। रोजगार के अवसर भी शुरू होंगे। ब्रज हैरिटेज पर्यटन की असीम संभावना है। मथुरा के विकास की योजनाओं का शुभारंभ किया गया है। इससे देश भर को लाभ मिलेगा। पर्यटन के क्षेत्र में भारत विश्व में 34वें स्थान पर है, जबकि 2013 में 65वें स्थान पर था।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अमेरिकी हमले की याद दिला आतंकवाद को पाकिस्तान से जोड़ा। उन्होंने कहा कि आज आतंकवाद विचारधारा बन गई है, जो हमारे पड़ोस में फलफूल रही है। हमने सबक सिखाया है और आगे भी सिखाएंगे। आतंकवाद को पनाह और प्रशिक्षण देने वालों पर कड़ी कार्रवाई की जरूरत है। हाल में आतंक विरोधी कानूनी भी इसी दिशा में किया गया काम है। समस्या आतंक की हो या पर्यावरण की, मिलकर लड़ना होगा।

इससे पहले केंद्रीय पशुधन विकास मंत्री गिरिराज सिंह ने प्रधानमंत्री का स्वागत किया। उन्होंने कहा कि मोदी जी ने किसानों के हितों को लेकर जो कदम उठाए हैं, वे स्वागत योग्य हैं। इन योजनाओं से पशुओं के साथ पशुपालक भी लाभान्वित होंगे। इस दौरान 51 करोड़ पशुओं का टीकाकरण होगा। यह कार्यक्रम पूरे देश में होगा। इससे पशु ही नहीं पशु पालक के लिए अभयदान होगा। जल शक्ति मंत्री विजेंदर सिंह शेखावत ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि हम नए भारत के संकल्प के साथ काम कर रहे हैं। इस बार राष्ट्र खुले में शौच मुक्त होकर महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि देगा। उन्होंने कहा कि देश मे 25 हजार टन कचरा निकलता है, जिसका केवल 30 फीसद ही रिसायकिल होता है। हमें प्लास्टिक के कचरे को मुक्त करने का संकल्प लेना है।

Spread the love

About desk

Check Also

पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज की अस्थियां गंगा में प्रवाहित

चैनल हिंदुस्तान डेस्क: पूर्व विदेश मंत्री और बीजेपी की कद्दावार नेता सुषमा स्वराज की अस्थियां …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *