Breaking News
Home / राष्ट्रीय / मौजूदा स्थिति को ध्यान में रखते एयरफोर्स और नेवी चीफ को अब मिलेगी जेड प्‍लस सुरक्षा

मौजूदा स्थिति को ध्यान में रखते एयरफोर्स और नेवी चीफ को अब मिलेगी जेड प्‍लस सुरक्षा

चैनल हिंदुस्तान डेस्क: भारतीय वायुसेना और नौसेना के प्रमुखों को जेड प्लस सुरक्षा दी जाएगी। पाकिस्तान के साथ बढ़े तनाव के मद्देनजर वायुसेना प्रमुख एयर मार्शल बी एस धनोआ और नौसेना प्रमुख एडमिरल सुनील लांबा को संभावित खतरे की गहन समीक्षा के बाद यह निर्णय लिया गया है। एक सरकारी अधिकारी ने कहा कि दोनों सेनाओं के प्रमुखों को जेड प्लस श्रेणी की सुरक्षा दी जाएगी। सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत को पहले ही जेड प्लस सुरक्षा मिली हुई है। दिल्ली पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि उन्हें गृह मंत्रालय से कल आदेश मिले हैं कि एअर फोर्स चीफ और नेवी चीफ को आज से ही Z+ सिक्योरिटी मुहैया करायी जाए।

गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया कि थल सेना अध्यक्ष के पास पहले से ही काफी सुरक्षा है। मौजूदा स्थिति को ध्यान में रखते हुए और धमकियों का विशलेषण करने के बाद एअर फोर्स और नेवी चीफ की सुरक्षा में बढ़ोत्तरी करने का फैसला लिया गया है। उल्लेखनीय है कि जेड प्लस की सुरक्षा देश में सबसे सुरक्षित सुरक्षा व्यवस्था मानी जाती है। जेड प्लस में 55 सुरक्षाकर्मी शामिल होते हैं, जिनमें से 10 एनएसजी कमांडो होते हैं। एनएसजी कमांडो एमपी-5 गन और अन्य अत्याधुनिक हथियारों से लैस होते हैं।

ज्ञात हो कि वायुसेना अध्यक्ष और नौसेना अध्यक्ष की सुरक्षा में बढ़ोत्तरी का फैसला ऐसे वक्त किया गया है, जब भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव काफी बढ़ गया है। पुलवामा आतंकी हमले के बाद भारतीय वायुसेना ने बीती 26 फरवरी की सुबह पाकिस्तान की सीमा में घुसकर आतंकी ठिकानों पर भारी बमबारी की। इसके जवाब में 27 फरवरी को पाकिस्तान के लड़ाकू विमानों ने भी भारतीय हवाई क्षेत्र में घुसने का प्रयास किया। हालांकि भारतीय वायुसेना ने चौकन्ना रहते हुए पाकिस्तान के इस प्रयास को विफल कर दिया। हालांकि इस हमले में भारतीय वायुसेना का एक मिग-21 विमान क्षतिग्रस्त हो गया, वहीं पाकिस्तान का एफ-16 लड़ाकू विमान भी तबाह हो गया।

Spread the love

About desk

Check Also

शाहीन बाग प्रदर्शन पर बोले दिलीप घोष – कोई मर क्यों नहीं रहा, क्या उन्होंने अमृत पी लिया?

चैनल हिंदुस्तान डेस्क: देश के कई राज्‍यों में नागरिकता संशोधन कानून (CAA) और नेशनल रजिस्‍टर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *