Breaking News
Home / राज्य / पश्चिम बंगाल / सारधा चिटफंड घोटाला में पूछताछ करने गयी CBI अधिकारियों को गिरफ्तार किया और कुछ देर बाद छोड़ा

सारधा चिटफंड घोटाला में पूछताछ करने गयी CBI अधिकारियों को गिरफ्तार किया और कुछ देर बाद छोड़ा

चैनल हिंदुस्तान डेस्क: सारधा चिटफंड कांड की जांच कर रही सीबीआई की टीम को रविवार को एक हैरतअंगेज घटना का सामना करना पड़ा। घटना रविवार शाम छह बजे के करीब की है। प्राप्त जानकारी के मुताबिक सीबीआई के तकरीबन 40 सदस्यों की टीम कोलकाता पुलिस आयुक्त राजीव कुमार से पूछताछ के लिए सीपी के घर लाउडन स्ट्रीट के बाहर गयी थी।
इसके पहले सीबीआई की टीम पार्क स्ट्रीट थाने में इसकी जानकारी देने गयी थी, वहां उन्हें बताया गया कि सीपी का निवास स्थल शेक्सपीयर सरणी थानाक्षेत्र में आता है। इसके बाद सीबीआई की टीम शेक्सपीयर सरणी थाने में गयी। वहां कोलकाता पुलिस की तरफ से सीबीआई के सभी अधिकारियों को पूछताछ के लिए हिरासत में ले लिया गया।

हिरासत में लेने के पहले सभी सीबीआइ की टीम को धक्का देकर शेक्सपीयर सरणी थाने के बाहर निकाला गया। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी कोलकाता पुलिस आयुक्त राजीव कुमार के आवास पर पहुंचीं और घर के अंदर कमिश्‍नर के साथ बैठक शुरू की। बैठक में कोलकाता पुलिस आयुक्त राजीव कुमार के साथ-साथ राज्य पुलिस के भी वरिष्ठ अधिकारी हैं।

पुलिस के सूत्रों का कहना कि सीबीआई के साथ हुई तकरार की घटना का कानूनी रूप से मुकाबला कैसे किया जायेगा। इसकी रणनीति बनायी जायेगी। साल्टलेक स्थित सीबीआई कार्यालय सीजीओ कंप्लेक्स को पुलिस ने घेर रखा है। सीबीआई कार्यालय के समक्ष भारी संख्या में पुलिस तैनात है। सीबीआई कार्यालय को विधाननगर पुलिस ने लगभग सील कर दिया है।

सीबीआई ने राज्य पुलिस महानिदेशक वरींद्र सिंह ने बात की। सीबीआई केंद्रीय वाहिनी की मदद ले सकती है। लगभग एक माह पहले फिल्म प्रोड्यूसर श्रीकांत मोहता से पूछताछ करने लगी सीबीआई टीम को कसबा थाना की पुलिस ने भी बाधा पहुंचायी थी। सीबीआई अधिकारियों का कहना है कि सर्वोच्च न्यायालय के निर्देश पर सीबीआई सारधा मामले की जांच कर रही है, लेकिन पुलिस ने इसमें बाधा दी और उसके अधिकारियों को हिरासत में ले लिया गया। सीबीआई के 45 अधिकारियों को हिरासत में लिया गया है।

संघीय व्यवस्था पर हमला : विजयवर्गीय

भाजपा महासचिव व बंगाल भाजपा के प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि सीबीआई अधिकारियों को हिरासत में लेना संघीय व्यवस्था पर हमला है। सीबीआई के अधिकारी सर्वोच्च न्यायालय के निर्देश के अनुसार जांच कर रहे हैं, लेकिन पुलिस न केवल कार्य में बाधा दी है, वरन हिरासत में ले लिया है।

भाजपा संवैधानिक संकट खड़ा करना चाहती है : डेरेक

तृणमूल कांग्रेस के सांसद और प्रवक्ता डेरेक ओ ब्रायन ने ट्वीट करके कहा है कि भाजपा साजिश करके संवैधानिक संकट खड़ा करना चाहती है। सीबीआई के अधिकारियों ने कोलकाता के पुलिस कमिश्‍नर का आवास घेर लिया है। ऐसा करके ये लोग संस्थान की गरिमा को खत्म करना चाह रहे हैं।

Spread the love

About admin

Check Also

Citizenship Amendment Act: आर्थिक नुकसान पर ममता सरकार के खिलाफ कोर्ट जाएगी रेल

चैनल हिंदुस्तान डेस्क: नागरिकता संशोधन कानून (Citizenship Amendment Act) को लेकर राज्यव्यापी प्रदर्शन के दौरान …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *