cyclone fani: समुद्र में मछुआरों के जाने पर पाबंदी

0

चैनल हिंदुस्तान डेस्क: बंगाल की खाड़ी में उठे चक्रवाती तूफान फेनी को लेकर पश्चिम बंगाल में भी अलर्ट जारी किया गया है। राज्य आपदा प्रबंधन विभाग की ओर से जारी अलर्ट के मुताबिक मंगलवार रात बंगाल की खाड़ी से यह चक्रवात ओडिशा के तट की ओर आगे बढ़ जाएगा।

हालांकि इसका बहुत अधिक असर पश्चिम बंगाल पर नहीं पड़ेगा, लेकिन यहां तेज हवाएं चलने के साथ-साथ समुद्र में ऊंची-ऊंची लहरें उठेंगी, इसलिए बंगाल की सीमा से सटे समुद्र में मछुआरों के जाने पर पाबंदी लगा दी गई है।

उल्लेखनीय है कि बंगाल की खाड़ी में उमड़-घुमड़ रहा चक्रवात फेनी इस समय आंध्र प्रदेश के मछलीपट्टनम से दक्षिण पूर्व दिशा में तकरीबन 700 किलोमीटर दूर पहुंच चुका है। इस समय इसके अंदर चल रही हवाओं की रफ्तार 130 से 140 किलोमीटर प्रति घंटे के बीच है। मौसम विभाग के मुताबिक अगले 36 घंटे में यह तूफान अति भीषण चक्रवाती तूफान में तब्दील हो जाएगा। तब इसके अंदर हवा की रफ्तार 165 से 175 किलोमीटर प्रति घंटे के बीच हो जाएगी। यह स्थिति एक मई तक बनेगी। एक मई की शाम से चक्रवाती तूफान फेनी बंगाल की खाड़ी में अपनी दिशा बदलना शुरू कर देगा और यह ओडिशा के तटवर्ती इलाकों की तरफ रुख कर लेगा।

पश्चिम बंगाल के तटीय इलाकों को अधिक खतरा है। तूफान फैनी के बंगाल की खाड़ी के दक्षिण-पूर्व और इससे लगे दक्षिण-पश्चिम में लगातार बढ़ने पर पूर्वी नौसेना कमान (ईएनसी) को हाई अलर्ट पर कर दिया गया है।

Spread the love
Hindi News से जुड़े हर अपडेट और को जल्दी पाने के लिए Facebook Page को लाइक करें और विडियो देखने के लिए Youtube को सब्सक्राइब करें।

Leave A Reply