Breaking News
Home / राज्य / पश्चिम बंगाल / शिक्षित युवाओं को भी लघु उद्योगों में रुचि बढ़ानी चाहिए – ममता

शिक्षित युवाओं को भी लघु उद्योगों में रुचि बढ़ानी चाहिए – ममता

डेस्क: पश्चिम बंगाल सरकार सूक्ष्म, मध्यम व लघु उद्योग (एमएसएमई) के लिए सिंगल विंडो की व्यवस्था करेगी। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने विश्व बांग्ला कांवेंशन सेंटर में ‘एमएसएमई कांक्लेव 2018’ के उद्घाटन समारोह में यह घोषणा करते हुए कहा कि लघु उद्योगों में रोजगार की अपार संभावनाएं हैं। लघु उद्योगों के उत्पादों का निर्यात बढ़ाना होगा। निर्यात बढ़ने से आय में वृद्धि होगी और लघु उद्योगों की स्थिति मजबूत होगी।
मुख्यमंत्री ने आगे कहा कि भारी उद्योगों की एक सीमा है। स्टील प्लांट व कोई बड़ा पावर प्लांट ज्यादा नहीं लगाया जा सकता लेकिन विभिन्न क्षेत्रों में अधिक से अधिक लघु उद्योग शुरू किए जा सकते हैं। लघु उद्योगों के बढ़ने से राज्य की अर्थव्यस्था मजबूत होगी और रोजगार बढ़ने से बेरोजगारी की समस्या दूर होगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि शिक्षित युवाओं को भी लघु उद्योगों में रुचि बढ़ानी चाहिए। लघु उद्योग शुरू करने के लिए राज्य सरकार की कई योजनाएं हैं। सरकारी आत्म निर्भर योजना का लाभ उठाकर शिक्षित युवा लघु उद्योग शुरू कर सकते हैं। युवतियों को भी लघु उद्योग में रुचि बढ़ानी चाहिए। अक्सर देखा जाता है कि युवतियां उद्योग व व्यवसाय से दूर रहती हैं लेकिन लघु उद्योग में हस्तशिल्प समेत कई ऐसे क्षेत्र हैं जिसमें युवतियां बेहतर कर सकती हैं। टेक्सटाइल क्षेत्र का दायरा बढ़ा है। पहले इस क्षेत्र में मोटा कपड़ा ही तैयार होता था लेकिन आज टेक्सटाइल क्षेत्र के उत्पाद में विविधता आई है। सेवा क्षेत्र का भी दायरा बढ़ा है। पर्यटन क्षेत्र में रोजगार की अपार संभावनएं है।

Spread the love

About admin

Check Also

Violence increases in West Bengal

पश्चिम बंगाल में बढ़ी हिंसा, 6 जिलों में इंटरनेट बंद

चैनल हिंदुस्तान डेस्क: संशोधित नागरिकता कानून के खिलाफ तीसरे दिन रविवार को बंगाल में उबाल …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *