Breaking News
Home / राष्ट्रीय / हर बेइमान को मोदी से कष्ट, अब एयर स्ट्राइक का भी सबूत मांग रहे – PM मोदी

हर बेइमान को मोदी से कष्ट, अब एयर स्ट्राइक का भी सबूत मांग रहे – PM मोदी

चैनल हिंदुस्तान डेस्क: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को ग्रेटर नोएडा में पंडित दीनदयाल उपाध्याय इंस्टीट्यूट ऑफ आर्किलॉजी के साथ नोएडा सिटी सेंटर से इलेक्ट्रॉनिक सिटी मेट्रो का भी उद्घाटन किया। इस मौके पर उन्होंने जनसभा को संबोधित करते हुए पुरानी सरकारों को आड़े हाथों लिया। जिस कोयला खान आवंटन में कांग्रेस सरकार ने घोटाले किए उसको भाजपा सरकार ने पारदर्शी बनाया। आवंटन में करोड़ों का घोटाला हुआ था उसी कोयला खान आवंटन को भाजपा सरकार ने पारदर्शी बनाया। मैं किसी को घोटाले नहीं करने दूंगा और घोटाले करने वाले को मैं छोडूंगा भी नहीं।

‘मोदी-मोदी’ के नारों ने उड़ाई विरोधियों की नींद

अपने संबोधन की शुरुआत में पीएम मोदी ने कहा कि यहां पर मोदी-मोदी के नारे लग रहे हैं, इससे विरोधी दलों की नींद उड़ गई है। पहले नोएडा की पहचान भूमि आवंटन, टेंडर घोटाले से होती थी। पुरानी सरकारों में नोएडा ग्रेटर नोएडा को खूब लूटा गया, लेकिन अब नोएडा की पहचान विकास कार्यों से हो रही है। देश बदल रहा है। 2014 से पहले सिर्फ दो मोबाइल कंपनी देश में थी, अव 125 हो गई है। इनमें से बड़ी कंपनियां नोएडा और ग्रेटर नोएडा में है।

‘हिंदुस्तान की जयकार के लिए काम करता हूं’

अपने भाषण में पीएम ने कहा कि मोदी अपनी जयकार के लिए काम नहीं करता बल्कि, मोदी हिंदुस्तान की जय के लिए काम करता है। साथ ही कहा कि कांग्रेस की सरकारों में प्राचीन सभ्यता संस्कृति को नष्ट करने का काम किया, पहले की सरकारों ने अपने घोटालों पर घोटाले किए। पहले की सरकारों ने अपने किस राग दरबारी चाटुकार को इनाम देने के लिए। मीडिया थोड़ी सी भी छानबीन करेगी तो सारा सच निकल कर बाहर आ जाएगा।राग दरबारी और चाटुकारों की पहचान करनी चाहिए।

हर बेइमान को मोदी से कष्ट

मोदी ने कहा कि कांग्रेस की सरकार की गलत नीतियों के कारण देश उन देशों से भी बिछड़ गए जो हमारे साथ आजाद हुए थे। हमारी सरकार दलाली करने वालों से सख्ती से निबट रही है। इसके साथ ही पीएम ने कहा कि हर बईमान को मोदी से कष्ट है, इसलिए वह मिल मुझे गाली दे रहे हैं। मुझे गाली देने के लिए वे अब देश का भी विरोध करने लगे हैं।

पाकिस्तान को दिया उसी की भाषा में जवाब

आतंकवाद के मुद्दे पर पीएम मोदी ने कहा कि उरी सर्जिकल स्ट्राइक करके आतंक को पनाह देने वालों को उन्हीं की भाषा में समझाया। पुलवामा की घटना के बाद क्या मुझे चुप बैठना चाहिए था? क्या चौकीदार को सोते रहने चाहिए था? चौकीदार का कर्तव्य नहीं बनता कि वह देश पर हमला करने वालों को कड़ा जवाब दे, इसीलिए
रात में 3:30 बजे हमारे जहाजों ने आतंकवादियों के छक्के छुड़ा दिए।

दमवाली है भाजपा सरकार

पाकिस्तान दुनिया के आगे रोने लगा कि मोदी ने यह क्या कर दिया हमारे ऊपर। हमने आतंकवादियों के अड्डे को नष्ट कर दिया। पाकिस्तान सोच रहा था कि भारत पर हमला किया जाए, लेकिन उस ऐसा घाव दिए कि वह कुछ नहीं करेगा। पाकिस्तान की यह पता नहीं था कि अब रिमोट कंट्रोल वाली सरकार नहीं है। क्या भारत 26 11 के आतंकवादी हमले को भूल सकता है? तब आतंकवादियों पर कार्रवाई करने के लिए दम चाहिए था, लेकिन रिमोट कंट्रोल वाली सरकार में यह दम नहीं था।

पिछली सरकारों ने आतंकवाद को नहीं दिया सही जवाब

पीएम ने कहा कि उस समय हमारी सेना बदला लेने के लिए तैयार थी। सरकार सोती रही। यही कारण था कि मुंबई हमले के बाद भी देश में लगातार आतंकवादी हमले होते रहे। इन हमलों में लोग मरे और घायल हुए, लेकिन पहले कि कांग्रेस सरकार ने अपनी नीति नहीं बदली। यदि पहले की सरकार ने दमखम दिखाया होता और आतंकवादियों को उसी भाषा में जवाब दिया होता तो आज आतंक इतना बड़ा नासूर नहीं बनता।

अब बदल गया है भारत

पीएम ने पाकिस्तान ने चुनौती देने के अंदाज में कहा कि अब आतंकवादियों के आकाओं को पता चल गया है कि भारत अब पहले वाला भारत नहीं है, भारत बदल गया है। जो देश को टुकड़े करने का सपना देख रहे हैं उन को कड़ा जवाब दिया जा रहा है। जो देश के खिलाफ साजिश रचने का काम कर रहे है उनको जवाब दिया जाएगा। जो लोग सर्जिकल स्ट्राइक पर सबूत मांग रहे है वह पाकिस्तान की मदद कर रहे हैं, ऐसे लोगों को सही रास्ते पर लाने की जरूरत है। ये कैसे लोग हैं इन को पहचानिए जिनके नाम पर पाकिस्तान में तालियां बज रही हैं। पाकिस्तान कह रहा है कि मोदी हमें मार कर चला गया, वह चिल्ला रहा है और रो रहा है दुनिया के आगे, लेकिन हमारे यहां सबूत मांगे जा जा रहे हैं। इन लोगों को यह तक नहीं पता था कि बालाकोट कहां है? हमारी सरकार ने पिछले 5 साल में जनता तक मूलभूत सुविधाओं को पहुंचाने का काम किया है। ऐसे भारत की योजना तैयार हो रही है जो सफल सक्षम और सुरक्षित हो।

Spread the love

About desk

Check Also

शाहीन बाग प्रदर्शन पर बोले दिलीप घोष – कोई मर क्यों नहीं रहा, क्या उन्होंने अमृत पी लिया?

चैनल हिंदुस्तान डेस्क: देश के कई राज्‍यों में नागरिकता संशोधन कानून (CAA) और नेशनल रजिस्‍टर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *