Breaking News
Home / अंतरराष्ट्रीय / पाक प्रधानमंत्री इमरान खान PM मोदी से की शांति की गुहार, मांगा एक मौका

पाक प्रधानमंत्री इमरान खान PM मोदी से की शांति की गुहार, मांगा एक मौका

चैनल हिंदुस्तान डेस्क: पुलवामा आतंकी हमले के बाद भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव चरम पर है। एक तरफ भारत में पाकिस्तान को सबक सिखाने की मांग हो रही है तो दूसरी तरफ पाकिस्तान की तरफ से भी परमाणु युद्ध तक की बातें हो रही हैं। इस बीच पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान ने रविवार को पीएम नरेंद्र मोदी से ‘शांति लाने को एक मौका देने’ की बात कही।

इमरान खान ने पीएम मोदी को यकीन दिलाया कि वह अपनी जुबान पर कायम रहेंगे। उन्होंने कहा, अगर भारत पुलवामा टेरर अटैक पर पाकिस्तान को ‘कार्रवाई योग्य खुफिया जानकारी’ उपलब्ध करवा देता है तो वह इस पर तत्काल कार्रवाई करेंगे।
ज्ञात हो कि हाल ही में पीएम मोदी ने राजस्थान में एक रैली के दौरान कहा था कि ‘आतंकवाद के खिलाफ पूरी दुनिया में आम सहमति है। आतंकवाद के दोषियों को दंडित करने के लिए हम मजबूती से आगे बढ़ रहे हैं। इस बार हिसाब होगा और बराबर होगा। यह बदला हुआ भारत है, इस दर्द को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। हम जानते हैं आतंकवाद को कैसे कुचलना है।’ इमरान खान ने पीएम मोदी के इस भाषण के बाद यह बयान जारी किया है।

पीएम मोदी ने इस रैली में इमरान खान के पाकिस्तानी प्रधानमंत्री बनने पर उन्हें दिए गए बधाई संदेश को याद किया। पीएम मोदी ने उस वक्त इमरान से कहा था, ‘आईये गरीबी और अशिक्षा के खिलाफ लड़ाई लड़ें। तब इमरान खान ने कहा था कि मोदीजी मैं पठान का बच्चा हूं, सच्च बोलता हूं, सच्चा करता हूं। आज उनके शब्दों को कसौटी पर तौलने का वक़्त है।’

पाकिस्तानी प्रधानमंत्री के कार्यालय से जारी बयान में कहा गया है- ‘प्रधानमंत्री इमरान खान अपनी जुबान पर कायम हैं कि अगर भारत कार्रवाई योग्य खुफिया जानकारी देता है तो हमलोग तत्काल कार्रवाई करेंगे।’ इमरान ने बयान में कहा कि प्रधानमंत्री मोदी को ‘शांति को एक मौका’ देना चाहिए।

इससे पहले 19 फरवरी को भी इमरान खान ने भरोसा दिलाया था कि वह पुलवामा टेरर अटैक के दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करेंगे, जिसे पाकिस्तान स्थित आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने अंजाम दिया था। उस वक्त भी उन्होंने कहा था कि अगर भारत कार्रवाई योग्य खुफिया जानकारी मुहैया करता है तो पाकिस्तान जरूर कार्रवाई करेगा।

हालांकि उस वक्त इमरान खान भारत को आंखें दिखाने से भी बाज नहीं आए। उन्होंने ‘बदले की भावना’ से कोई जवाबी कार्रवाई शुरू करने के खिलाफ भारत को चुनौती भी दी थी। भारत ने हमले की जांच को लेकर इमरान खान की पेशकश को बहाना बताया है।

ज्ञात हो कि जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में जैश-ए-मोहम्मद के आतंकियों ने गुरुवार 14 फरवरी को CRPF के काफिले पर हमला कर दिया था। इस आतंकी हमले में 40 जवान शहीद हो गए थे, जिसके बाद देशभर में गुस्सा चरम पर है।

Spread the love

About desk

Check Also

आर्मी चीफ का बड़ा खुलासा, पाक ने बालाकोट में फिर खड़ा किया आतंकी कैंप

चैनल हिंदुस्तान डेस्क: पाकिस्तान ने एकबार फिर बालाकोट में आतंकी ठिकानों को सक्रिय कर दिया …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *