Breaking News
Home / टेक्नोलॉजी / इंटरनेट इस्तेमाल में भारत दूसरे स्थान पर, महिलाएं अभी भी पीछे : रिपोर्ट

इंटरनेट इस्तेमाल में भारत दूसरे स्थान पर, महिलाएं अभी भी पीछे : रिपोर्ट

चैनल हिंदुस्तान डेस्क: भारत में इंटरनेट इस्तेमाल करने की रफ्तार हमारी सोच से कहीं ज्यादा तेज है। इंटरनेट उपयोग के मामले में हमारा देश चीन के बाद दूसरे स्थान पर है। निल्सन होल्डिंग्स के साथ इंटरनेट एंड मोबाइल एसोसिएशन ऑफ इंडिया (आइएएमएआइ) की हालिया रिपोर्ट ‘इंडिया इंटरनेट 2019’ के अनुसार 31 मार्च, 2019 तक भारत में 45.10 करोड़ मासिक सक्रिय इंटरनेट यूजर थे।

जबकि चीन में 80 करोड़ से अधिक यूजर थे। सक्रिय इंटरनेट यूजर का अर्थ बीते एक महीने में इंटरनेट इस्तेमाल करनेवालों से है। भारत के सक्रिय इंटरनेट यूजर की संख्या पर आइएएमएआइ की यह पहली रिपोर्ट है। इससे पहले आइएएमएआइ भारत के कुल इंटरनेट यूजर की संख्या का अध्ययन करती रही है।

चालीस करोड़ यूजर बारह वर्ष से अधिक उम्र के

इस रिपोर्ट की मानें तो कुल 45.1 करोड़ सक्रिय यूजर में 38.5 करोड़ यूजर 12 से अधिक उम्र के हैं, जबकि 6.6 करोड़ यूजर पांच से 11 वर्ष के हैं। इन आंकड़ों से पता चलता है कि हमारे देश में इंटरनेट इस्तेमाल करनेवालों की अच्छी-खासी संख्या स्कूल जाने वाले बच्चों की है।
यह जानना दिलचस्प है कि इन बच्चों के पास अपनी डिवाइस नहीं है, बल्कि ये अपने माता-पिता या परिवार के किसी दूसरे सदस्यों की डिवाइस के माध्यम से इंटरनेट इस्तेमाल करते हैं। हमारे देश में इंटरनेट इस्तेमाल करनेवाले तीन में से एक से अधिक व्यक्ति 12 से अधिक उम्र के हैं।

महिलाएं अभी भी पीछे

पूरे भारत में स्मार्टफोन की पहुंच और कम कीमत पर 4जी सेवाओं की उपलब्धता के बावजूद इंटरनेट इस्तेमाल में लैंगिक तौर पर काफी अंतर है। रिपोर्ट में बताया गया है कि आज भी पुरुषों के मुकाबले इंटरनेट इस्तेमाल में महिलाएं काफी पीछे हैं।

हमारे देश में जहां 25.8 करोड़ पुरुष इंटरनेट का इस्तेमाल करते हैं, वहीं महिलाओं की संख्या इसके मुकाबले आधी है। देश भर के 67 प्रतिशत पुरुषों के मुकाबले महज 33 प्रतिशत महिलाएं ही इंटरनेट उपयोग करती हैं। वहीं, शहरी इलाके में 62 प्रतिशत पुरुषों की तुलना में 38 प्रतिशत महिलाएं इंटरनेट का इस्तेमाल करती हैं। ग्रामीण इलाके में यह अंतर कहीं ज्यादा है। यहां 72 प्रतिशत पुरुषों की तुलना में महज 28 प्रतिशत महिला इंटरनेट यूजर हैं।

51 प्रतिशत शहरी यूजर

हमारे देश में 12 वर्ष से अधिक उम्र के इंटरनेट इस्तेमाल करनेवालों का प्रतिशत महज 36 है। इनमें 51 प्रतिशत यूजर शहरी और 27 प्रतिशत ग्रामीण भारत से हैं। इंटरनेट पर समय बिताने की अगर बात करें तो 33 प्रतिशत शहरी भारतीय एक घंटे से ज्यादा रोजाना इंटरनेट पर बिताते हैं, वहीं ग्रामीण भारत में इंटरनेट पर बिताया जाने वाला समय महज 15 से 30 मिनट है।

इंटरनेट उपयोग में दिल्ली अव्वल

राज्यों के स्तर पर अगर बात करें तो इंटरनेट इस्तेमाल के मामले में 69 प्रतिशत के साथ दिल्ली सबसे आगे है। 54 प्रतिशत के साथ केरल दूसरे और 49 प्रतिशत के साथ जम्मू-कश्मीर, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश और पंजाब तीसरे स्थान पर हैं। 47 प्रतिशत के साथ तमिलनाडु चौथे तो 43 प्रतिशत के साथ महाराष्ट्र व गोवा पांचवे स्थान पर मौजूद हैं। इंटरनेट इस्तेमाल में असम व पूर्वोत्तर के राज्यों (38 प्रतिशत) को छोड़कर पूर्वी भारत के राज्य (पश्चिम बंगाल 29 प्रतिशत, बिहार 28 प्रतिशत, झारखंड 26 प्रतिशत, ओडिशा 25 प्रतिशत) काफी पीछे हैं।

तेज हुई भारत की औसत इंटरनेट स्पीड

इंटरनेट स्पीड टेस्ट ऑर्गनाइजेशन, ऊकला की रिपोर्ट के मुताबिक भारत में औसत इंटरनेट स्पीड में वृद्धि हुई है। अप्रैल और सितंबर 2019 के बीच 2.1 करोड़ परीक्षणों से प्राप्त आंकड़ों के अनुसार, सिंतबर 2019 के अंत तक भारत की औसत फिक्स्ड ब्रॉडबैंड स्पीड 16.5 प्रतिशत बढ़कर 34.07 एमबीपीएस पर पहुंच गयी है।

वहीं दूसरी ओर भारत की मोबाइल इंटरनेट स्पीड 10.63 और 11.18 एमबीपीएस के बीच की औसत के साथ काफी हद तक स्थिर बनी हुई है। शहरों के बीच नेटवर्क स्पीड की अगर बात करें तो, 51.07 एमबीपीएस की स्पीड के साथ चेन्नई सबसे तेज और 20.1 एमबीपीएस की स्पीड के साथ नागपुर सबसे धीमा है।

हालांकि मोबाइल की स्पीड में शहरों के बीच ज्यादा अंतर नहीं है। 11.87 एमबीपीएस की स्पीड के साथ मुंबई सबसे तेज, तो 8.94 एमबीपीएस के साथ लखनऊ सबसे धीमा है। 4जी उपलब्धता को लेकर ऊकला का आंकड़ा कहता है कि भारत के 88 प्रतिशत ऑपरेटर नेटवर्क अब 4जी की सुविधा मुहैया कराने लगे हैं।

Spread the love

About desk

Check Also

ISRO चीफ के सिवन का बड़ा बयान, विक्रम से संपर्क नहीं हो पाया लेकिन…

चैनल हिंदुस्तान डेस्क: इसरो (ISRO) प्रमुख के सिवन ने कहा कि चंद्रयान-2 का ऑर्बिटर काफी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *