Breaking News
Home / राज्य / जम्मू-कश्मीर / जम्मू कश्मीर: ईद से पहले वादी में माहौल सामान्य बनाने की कवायद, 2 टेलीफोन नंबर जारी

जम्मू कश्मीर: ईद से पहले वादी में माहौल सामान्य बनाने की कवायद, 2 टेलीफोन नंबर जारी

चैनल हिंदुस्तान डेस्क: जम्मू कश्मीर के पुनर्गठन और अनुच्छेद 370 भंग करने के बाद कश्मीर में फैले तनाव को कम कर हालात सामान्य बनाने की कवायद तेज कर दी है। लक्ष्य है कि ईद से पहले वादी में हालात सामान्य हों और निषेधाज्ञा के बावजूद लोग बेखौफ त्योहार मना सकें। प्रधानमंत्री के संबोधन से राज्य प्रशासन की इन तैयारियों की झलक मिलती है।

सोमवार को ईद-उल जुहा का मुबारक त्योहार भी है। मौजूदा सुरक्षा परिदृश्य में लोगों को कोई दिक्कत न हो, इसके लिए कई निर्देश जारी किए। अभी वादी में फोन सेवाएं और बाजार बंद हैं। ऐसे में लोग अपने रिश्तेदारों से संपर्क नहीं साध पा रहे हैं। इसी के मद्देनजर वादी में 400 से अधिक स्थानों पर वायरलेस फोन बूथ स्थापित किए जाएंगे। संपर्क बहाल होने के साथ-साथ अन्य विश्वास बहाली के उपाय भी जारी हैं।

राज्यपाल ने जिला अधिकारियों को आम लोगों तक पहुंचने और बीमार लोगों का पता लगाकर चिकित्सा सुविधा यकीनी बनाने के लिए कहा। वादी से बाहर पढ़ाई कर रहे बच्चों से बातचीत के लिए परेशान अभिभावकों की मदद के लिए प्रत्येक जिला उपायुक्त कार्यालय में टेलीफोन हेल्पलाइन सेवा बहाल करने का निर्देश दिया।

आम आदमी इन नंबर पर करे संपर्क

श्रीनगर के जिला उपायुक्त डा. शाहिद इकबाल चौधरी के अनुसार जिला उपायक्त कार्यालय में हमने दो टेलीफोन सेवाएं 9419028242 और 9419028251 को शुरु किया है। अलबत्ता उन्होंने यह नहीं बताया कि आम आदमी इन नंबर पर कैसे संपर्क करेगा।

सभी जिला उपायुक्तों को निर्देश दिया गया है कि अधीनस्थ अधिकारियों को विभिन्न इलाकों में भेजें और कम से कम 20 स्थानीय परिवारों से मिलकर उनकी समस्याओं का समाधान करें। यह निर्देश राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने वादी के मौजूदा सुरक्षा परिदृश्य व अन्य गतिविधियों की समीक्षा करते हुए जारी किए।

ज्ञात हो कि राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) अजीत डोभाल ने भी जम्मू-कश्मीर में सुरक्षा बलों को निर्देश दिया कि यह सुनिश्चित करें कि प्रतिबंधों के दौरान आम लोगों को किसी भी तरह से परेशानी नहीं होनी चाहिए। सूत्रों के अनुसार, कश्मीर में तीन दिवसीय दौरे पर आए डोभाल ने बुधवार को दिल्ली लौटने से पहले जोर दिया था कि आम लोगों के जनजीवन को सामान्य बनाने में पूरा सहयोग करें। इससे पहले डोभाल ने शोपियां का दौरा कर कश्मीरियों से बातचीत करने के अलावा सुरक्षाबलों का भी हौसला बढ़ाया था।

Spread the love

About desk

Check Also

LoC पर भारत का करारा जवाब, फायरिंग में निशाना बने कई पाक पोस्ट और सैनिक

चैनल हिंदुस्तान डेस्क: पाकिस्तान लगातार सीमा पार से गोलियां बरसा रहा है। अब एक बार …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *