Breaking News
Home / राज्य / अन्य राज्य / कर्नाटक का नाटक: धरने पर बैठे येदियुरप्‍पा, बागी पहुंचे सुप्रीम कोर्ट

कर्नाटक का नाटक: धरने पर बैठे येदियुरप्‍पा, बागी पहुंचे सुप्रीम कोर्ट

चैनल हिंदुस्तान डेस्क: कर्नाटक में कांग्रेस-जदएस गठबंधन की सरकार बचाने के लिए दोनों ही दलों पूरी ताकत झोंक दी है। राज्‍य के मंत्री डीके शिवकुमार (DK Shivakumar) और जेडीएस के विधायक शिवलिंगे गौड़ा (Shivalinge Gowda) बागी विधायकों को मनाने मुंबई के होटल पहुंचे जहां पुलिस ने उन्‍हें रोक दिया। बागी विधायकों ने पुलिस को पत्र लिखकर खुद को खतरा बताया है। इस बीच, मुंबई के होटल ने आपात स्थितियों का हवाला देते हुए डीके शिवकुमार की बुकिंग रद कर दी है।

धरने पर बैठे येदियुरप्‍पा

इस बीच, भाजपा नेता एवं राज्‍य के पूर्व मुख्‍यमंत्री बीएस येदियुरप्‍पा ने कहा है कि हमने विधानसभा के सामने धरना प्रदर्शन करने का फैसला किया है। हम विधानसभा अध्‍यक्ष और गवर्नर से भी मिलेंगे। मंगलवार को कांग्रेस के निलंबित विधायक आर. रोशन बेग ने भी इस्तीफा दे दिया। इस तरह बागी कांग्रेस विधायकों की संख्या 11 और गठबंधन के कुल असंतुष्ट विधायकों की संख्या 14 हो गई है। दो निर्दलीय विधायक मंत्रिमंडल से इस्तीफा देकर पहले ही भाजपा खेमे में शामिल हो चुके हैं। मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी के नेतृत्व वाली 13 महीने पुरानी कांग्रेस-जदएस गठबंधन सरकार का भविष्य अब पूरी तरह विधानसभा अध्यक्ष के फैसले पर टिका है।

बागी पहुंचे सुप्रीम कोर्ट, सुनवाई कल

दूसरी ओर बागी विधायकों ने विधानसभा अध्‍यक्ष पर इस्‍तीफे स्‍वीकार करने में देरी का आरोप लगाते हुए सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है। विधायकों ने विधानसभा अध्‍यक्ष पर सांविधानिक कर्तव्‍यों का पालन नहीं करने का आरोप लगाया है। सुप्रीम कोर्ट ने अपने पद से इस्‍तीफा दे चुके इन विधायकों की याचिका पर संज्ञान लिया है।सुप्रीम कोर्ट कल मामले की सुनवाई करेगा। बता दें कि कल विधानसभा अध्यक्ष केआर रमेश कुमार ने कहा था कि 13 विधायकों में से आठ विधायकों के इस्तीफे निर्धारित प्रारूप के मुताबिक नहीं हैं।

Spread the love

About desk

Check Also

सुरक्षाबलों को मिली बड़ी सफलता, छत्तीसगढ़ में सात नक्सलियों को मार गिराया

चैनल हिंदुस्तान डेस्क: छत्तीसगढ़ में नक्सलियों के खिलाफ चलाए जा रहे ऑपरेशन में सुरक्षाबलों को …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *