ममता बनर्जी विद्यासागर की प्रतिमा का अनावरण करेंगी

0

चैनल हिंदुस्तान डेस्क: पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी 28 दिन बाद कॉलेज स्ट्रीट में विद्यासागर की उस प्रतिमा का अनावरण करेंगी जिसे राजनीतिक संघर्ष की बर्बरता में तोड़ दी गई थी। सीएम ममता बनर्जी ने पहले विद्यासागर की दो पूर्ण-प्रतिमाओं को स्थापित करने को कहा था। उन्होंने कहा था कि एक प्रतिमा विद्यासागर कॉलेज के गेट पर और दूसरी विद्यासागर सेतु पर लगाई जाएगी।

बता दें कि पश्चिम बंगाल में ईश्वर चंद्र विद्यासागर की प्रतिमा तोड़ने को लेकर विवाद पैदा हुआ था। पूरे देश में राजनीतिक चर्चा बन चुकी इस घटना के अब 28 दिन बाद राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी मूर्ति का फिर से अनावरण करेंगी। इस बार दो मूर्तियां लगाई जाएंगी जिसमें से एक आधी मूर्ति और दूसरी पूरी मूर्ति होगी। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी मंगलवार को कॉलेज परिसर में कार्यक्रम रखा गया है। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि विद्यासागर की आधी प्रतिमा को उसी कमरे में फिर से स्थापित किया जाएगा, जहां यह हुआ करती थी। शिक्षा मंत्री पार्थ चटर्जी ने बताया कि सीएम दोपहर 1 बजे हरे स्कूल मैदान में प्रतिमा का अनावरण करेंगे और फिर इसे विद्यासागर कॉलेज पहुंचाया जाएगा।

ज्ञात हो कि 14 मई को भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के रोड शो के दौरान कोलकाता के एक कॉलेज में समाज सुधारक ईश्वरचंद्र विद्यासागर की प्रतिमा तोड़ दी गई थी। विद्यासागर बंगाल में 19 वीं सदी के नवजागरण काल में सुधारक के तौर जाना जाता है।

सीएम ममता बनर्जी ने पहले विद्यासागर की दो पूर्ण-प्रतिमाओं को स्थापित करने को कहा था। उन्होंने कहा था कि एक प्रतिमा विद्यासागर कॉलेज के गेट पर और दूसरी विद्यासागर सेतु पर लगाई जाएगी। इधर प्रतिमा तोड़े जाने को लेकर उठे विवाद के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी विद्यासागर की पंचधातु (पांच धातुओं की मिश्रधातु) की प्रतिमा लगाने का वादा किया था।

लोकसभा चुनाव के अंतिम चरण से पांच दिन पहले हुई इस घटना को ममता बनर्जी ने विदेशी पार्टी द्वारा इसे बंगाल की संस्कृति पर हमला बताया। पश्चिम बंगाल के शिक्षा मंत्री ने कहा था, ‘उस समय पूरे राज्य ने मूर्ति गिराए जाने की बर्बरता और गुंडागर्दी का विरोध किया था, तब हमने नष्ट की गई मूर्ति को फिर से स्थापित करने का वादा किया था। विद्यासागर द्विवार्षिक उत्सव समिति और स्कूल शिक्षा विभाग दोनों ने सीएम से प्रतिमा के अनावरण करने का अनुरोध किया था, जिस पर उन्होंने अपनी सहमति दी थी।’ चटर्जी ने कहा कि बंगाल के सभी साहित्यकार, पंडित ईश्वर चंद्र विद्यासागर के परिवार के सदस्य और समाज के अन्य प्रमुख अतिथियों के साथ समिति के सदस्य इस अवसर पर उपस्थित होंगे।

Spread the love
Hindi News से जुड़े हर अपडेट और को जल्दी पाने के लिए Facebook Page को लाइक करें और विडियो देखने के लिए Youtube को सब्सक्राइब करें।

Leave A Reply