Breaking News
Home / अंतरराष्ट्रीय / मोदी की राह पर इमरान, उनके पहले देश को संबोधन में दिखा मोदी की झलक

मोदी की राह पर इमरान, उनके पहले देश को संबोधन में दिखा मोदी की झलक

डेस्क: पाकिस्तान का प्रधानमंत्री बनने के बाद इमरान खान ने रविवार देर रात राष्ट्र के नाम अपना पहला भाषण दिया। इमरान के देश के नाम पहले संबोधन में भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सपनों की झलक नजर आई। उनके भाषण में स्वच्छता, शिक्षा, काला धन, भ्रष्टाचार, पड़ोसी देशों से अच्छे संबंध जैसे कई मुद्दे शामिल थे।

देश के नाम इमरान खान का पहला संबोधन

स्वच्छता को धर्म से जोड़ा

जिस तरह भारत में पीएम मोदी ने ‘स्वच्छ भारत अभियान’ की नींव रखी। कुछ उसी तरह इमरान भी अपने भाषण में स्वच्छता का संदेश देते दिखे। उन्होंने स्वच्छता को धर्म से जोड़ते हुए कहा है कि पूरे पाकिस्तान में स्वच्छता अभियान की शुरुआत की जाएगी। ताकि पाकिस्तान स्वच्छता और सुंदरता के मामले में यूरोपीय देशों का मुकाबला कर सके।

50 लाख से कम बजट के ‘घर’ बनाएंगे

प्रधानमंत्री मोदी ने भी 2020 तक हर गरीब के सिर पर छत (घर) होने का लक्ष्य रखा है। इसी तरह इमरान ने भी सबको घर मुहैया कराने का लक्ष्य रखा है। उन्होंने कहा कि 50 लाख से कम बजट के घर बनाए जाएंगे, ताकि सबके सिर पर छत हो। खान ने कहा, ‘ये शर्म की बात है पीएम के बंगले में 524 कर्मचारी, 80 गाड़ियां और 33 बुलेट प्रूफ गाड़ियां है। इसके अलावा हेलिकॉप्टर और विमान भी हैं। वहीं, मुख्यमंत्री, गवर्नर, कमिश्नर के बड़े-बड़े बंगले हैं, जबकि आजादी के बाद देश की बड़ी आबादी के सिर पर अभी भी छत नहीं है।’

विदेश नीति पर जोर

इमरान खान ने अपने भाषण में माना है कि पाकिस्तान की तरक्की के लिए पड़ोसी मुल्कों से संबंध सुधारने होंगे। उन्होंने कहा, ‘मैंने पड़ोसी देशों के साथ रिश्ते सुधारने के लिए बात की है। जरूरत शांति की है, इसके बिना हम पाकिस्तान की स्थिति नहीं सुधार सकते।’ हालांकि, इमरान ने अपने भाषण में भारत समेत किसी भी पड़ोसी देश का नाम नहीं लिया। इमरान खान ने कहा कि यदि पाकिस्तान की दिशा नहीं बदली तो उसका विनाश तय है।

भ्रष्टाचार के खिलाफ अभियान

इमरान खान के भाषण से यह भी साफ लग रहा है कि उनकी सरकार भ्रष्टाचार को कतई बर्दाश्त नहीं करेगी। उन्होंने बताया कि पाकिस्तान का गृह मंत्रालय उन्होंने अपने पास इसलिए रखा है, क्योंकि वे भ्रष्टाचार के खिलाफ बड़ा अभियान छेड़ने जा रहे हैं। जिसके लिए उन्होंने देश की जनता का साथ मांगा है। याद हो तो प्रधानमंत्री मोदी भी भ्रष्टाचार के खिलाफ जीरो टॉलरेंस की बात कहते कई बार नजर आए हैं।

विदेश में रहने वाले पाकिस्तानी, देश भेजें पैसा

अक्सर आपने पीएम मोदी को अप्रवासी भारतीयों को देश में निवेश करने के लिए प्रेरित करते हुए सुना होगा। कुछ ऐसा ही पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान भी करते दिखे। उन्होंने देश के आर्थिक हालात पर चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि विदेश में रहने वाले पाकिस्तानी देश में पैसा भेजें, यहां के बैकों में रखे। जिससे देश को डॉलर की कमी से निजात दिलाने में मदद मिले। खान ने कहा कि उनका सपना पाकिस्तान को इस्लामिक कल्याणकारी राज्य बनाने का है।

Spread the love

About admin

Check Also

आर्मी चीफ का बड़ा खुलासा, पाक ने बालाकोट में फिर खड़ा किया आतंकी कैंप

चैनल हिंदुस्तान डेस्क: पाकिस्तान ने एकबार फिर बालाकोट में आतंकी ठिकानों को सक्रिय कर दिया …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *