करोड़ों की संपत्ति का मालिक फुटपाथ पर जीवन बिताने को मजबूर

0

चैनल हिंदुस्तान डेस्क: जीवन भर कमा कर एक-एक पैसा जमा किया, ताकि परिवार के साथ बुढ़ापे का समय सुखमय बीते। लेकिन पुत्र ने पिता के सपने को तोड़ दिया। पिता के जीवित रहते ही संपत्ति उसके हाथ आ जाए, इसलिए छोटे बेटे सिद्धार्थ ने मां अंजुलता से साठगांठ कर बुजुर्ग बाप को घर से निकाल दिया। अब 65 वर्ष की उम्र में करोड़ों की संपत्ति के मालिक एस कुमार फुटपाथ पर जीवन बिताने को मजबूर हैं।

मामला मेनरोड पीपी कंपाउंड का है। फिलहाल बेटे से संपत्ति पाने के लिए एस कुमार छह साल से अदालत का चक्कर काट रहे हैं। मंगलवार को केस की सुनवाई करते हुए जिला न्यायाधीश की अदालत ने मामले को मध्यस्थता केंद्र स्थानांतरित करने का आदेश दिया है। मालूम हो कि इस मामले में चुटिया और डेलीमार्केट थाना में सिद्धार्थ के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज है।

एस कुमार ने बताया कि पीपी कंपाउंड में उसका अपना घर है। वहीं सर्जना चौक पर इलेक्ट्रॉनिक्स की दुकान है। बड़ा बेटा हैदराबाद में रहता है। दूसरा बेटा सिद्धार्थ बीआइटी एक्सटेंशन में एमबीए कर रहा है। दुकान पर पहले एस कुमार खुद बैठते थे, लेकिन सिद्धार्थ मारपीट पर उतारू हो गया और दुकान पर भी कब्जा जमा लिया। बता दें कि दोनों बेटों की अभी शादी नहीं हुई है।

सिविल कोर्ट में केस की सुनवाई के दौरान एस कुमार रुआंसे हो कर अपनी स्थिति बताने लगे। उन्होंने कहा कि किसी दिन मंदिर तो किसी दिन रेलवे स्टेशन पर रात गुजरती है। बताया कि मुश्किल की इस घड़ी में विशेष लोक अभियोजक बीएन शर्मा अदालती कार्रवाई में मदद कर रहे हैं।

Spread the love
Hindi News से जुड़े हर अपडेट और को जल्दी पाने के लिए Facebook Page को लाइक करें और विडियो देखने के लिए Youtube को सब्सक्राइब करें।

Leave A Reply