Breaking News
Home / राष्ट्रीय / पुलवामा हमले के बाद पाकिस्तान रोज 3 बार तोरता है सीजफायर,भारतीय सेना देती हैं माकूल जवाब

पुलवामा हमले के बाद पाकिस्तान रोज 3 बार तोरता है सीजफायर,भारतीय सेना देती हैं माकूल जवाब

चैनल हिंदुस्तान डेस्क: भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव के बीच, रक्षा सूत्रों ने बुधवार (6 मार्च) को बताया कि पाकिस्तान ने अफगानिस्तान से लगती सीमा से अपने अतिरिक्त सिपाहियों और सैन्य उपकरणों को हटाकर कश्मीर में नियंत्रण रेखा पर विभिन्न संवेदनशील सेक्टरों में तैनात किया है। भारतीय सेना ने नियंत्रण रेखा पर असैन्य इलाकों को निशाना बनाने को लेकर बुधवार को पाकिस्तान को कड़ी चेतावनी जारी की है और कहा है कि उसके आगे की उकसावे की कार्रवाई या दुस्साहस के ‘गंभीर परिणाम’ होंगे। सरकारी सूत्रों ने बताया कि पाकिस्तान ने 155 एमएम तोपों से नौशेरा सेक्टर में अग्रिम चौकियों को निशाना बनाया जिसका जवाब भारतीय सेना ने बोफोर्स तोप से दिया। इसके बाद पाकिस्तान को चेतावनी जारी की गई।
सूत्रों के अनुसार दोनों सेनाओं के सैन्य अधिकारियों ने मंगलवार को हॉटलाइन पर बात की थी। इस दौरान भारत ने पाकिस्तान से नियंत्रण रेखा पर असैन्य आबादी को निशाना नहीं बनाने को कहा।

सेना ने एक बयान में कहा, ‘‘असैन्य इलाकों को निशाना नहीं बनाने की पाकिस्तानी फौज को हमारी चेतावनी के बाद नियंत्रण रेखा पर स्थिति कुल मिलाकर अपेक्षाकृत शांत रही।’’ बयान के मुताबिक, पाकिस्तानी फौज ने कृष्णा घाटी और सुंदरबानी में चयनित इलाकों में भारी कैलिबर के हथियारों से भारी और बिना उकसावे की गोलीबारी की और भारतीय चौकियों और असैन्य इलाकों को मोर्टार बमों से निशाना बनाया। इसमें कहा गया है कि इसका भारतीय सेना ने प्रभावी तरीके से जवाब दिया।

बयान में यह भी बताया गया है कि नियंत्रण रेखा और अंतरराष्ट्रीय सीमा पर कड़ी निगरानी रखी जा रही है। पाकिस्तान ने आगे कोई ‘उकसावे की कार्रवाई की या दुस्साहस’ किया तो उसका मुंह तोड़ तरीके से जवाब दिया जाएगा और गंभीर परिणाम होंगे। भारत की ओर से 26 फरवरी को पाकिस्तान में बालाकोट के पास जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी प्रशिक्षण अड्डों पर बमबारी करने के बाद दोनों देशों के बीच तनाव बढ़ गया। पुलवामा आतंकी हमले के बाद एलओसी पर 100 से ज्‍यादा संघर्षविराम का उनल्‍लंघन हो चुका है। एक अधिकारी ने कहा, “पुलवामा हमले के बाद रोज करीब तीन बार सीजफायर तोड़ा जा रहा है।”

सूत्रों ने बताया कि बालाकोट पर हमले के बाद, पाकिस्तान ने अफगानिस्तान से लगती अपनी सीमा से अतिरिक्त सिपाहियों और सैन्य उपकरणों को नियंत्रण रेखा के पास कई संवेदनशील सेक्टरों में अग्रिम स्थलों पर तैनात किया है। पाकिस्तान ने 27 फरवरी को भारतीय सैन्य प्रतिष्ठानों को निशाना बनाने की नाकाम कोशिश की थी।

Spread the love

About desk

Check Also

शाहीन बाग प्रदर्शन पर बोले दिलीप घोष – कोई मर क्यों नहीं रहा, क्या उन्होंने अमृत पी लिया?

चैनल हिंदुस्तान डेस्क: देश के कई राज्‍यों में नागरिकता संशोधन कानून (CAA) और नेशनल रजिस्‍टर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *