चुनावी रैली में राहुल बोले – पित्राेदा को फोन कर कहा आपको शर्म आनी चाहिए

0

चैनल हिंदुस्तान डेस्क: पंजाब के खन्ना में चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने 1984 सिख विरोधी दंगों का मामला उठाया। उन्होंने मामले पर सैम पित्रोदा द्वारा की गई टिप्पणी को गलत बताया। कहा कि पित्रोदा को ऐसी टिप्पणी पर शर्म आनी चाहिए। उन्हें ऐसी टिप्पणी को लेकर देश से माफी मांगनी चाहिए। उन्होंने पित्रोदा को फोन कर देश से माफी मांगने को कहा है।
ज्ञात हो कि पीएम मोदी व अन्य विरोधी दल दंगों को लेकर दिए पित्रोदा के बयान पर कांग्रेस को लगातार घेर रहे थे।

पीएम नरेंद्र मोदी पर जमकर बरसे। कहा कि पांच साल पहले मोदी जी पीएम बने। तीन चार बड़े वादे किए, लेकिन एक भी वादे को पूरा नहीं किया। मोदी ने बेरोजगारी मिटाने का वादा किया था, लेकिन रोजगार वालों को भी बेरोजगार बना दिया। 56 इंच का सीने वाला कहता था सभी के खाते में 15 लाख आएंगे, लेकिन यह वादा भी पूरा नहीं हुआ। राहुल ने कहा कि नोटबंदी अगर काले धन के खिलाफ लड़ाई थी तो गरीब लाइन में क्यों दिखे।

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा की गरीबों के स्तर ऊंचा उठाने के लिए उन्होंने अर्थशास्त्रियों को बुलाया और न्याय स्कीम बनाई। कहा मोदी ने लाखों करोड़ रुपया अडानी, अंबानी जैसे कुछ उद्योगपतियों को दिया, लेकिन कांग्रेस सरकार गरीब के खाते में पैसे डालेगी। कांग्रेस पार्टी ने निर्णय लिया कि लाखों करोड़ रुपया 5 करोड़ महिलाओं के खाते खाते में जाएगा और यह न्याय योजना के तहत हो पाएगा। कांग्रेस सरकार में आई तो गरीबोंं की जिंदगी बदल जाएगी। न्‍याय योजना गरीबोंं के लिए बहुत उपयोगी होगा। इसके तहत हर वर्ष गरीबों के खाते में 72 हजार रुपये आएंगे।

राहुल ने कहा कि नोटबंदी के बाद मोदी ने गरीबों व छोटे व्यापारियों की जेब से पैसा निकाला और अनिल अंबानी की जेब में पैसा डाल दिया, जबकि भारत की अर्थव्यवस्था इससे पूरी तरह से नष्ट हो गई। इससे बेरोजगारी पैदा हो गई। कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि 22 लाख सरकारी नौकरियां खाली पड़ी हैं। 10 लाख युवाओं को पंचायतों में रोजगार मिलेगा, लेकिन पंचायत व्यवस्था को तो नरेंद्र मोदी की सरकार ने चौपट करके रख दिया।

Spread the love
Hindi News से जुड़े हर अपडेट और को जल्दी पाने के लिए Facebook Page को लाइक करें और विडियो देखने के लिए Youtube को सब्सक्राइब करें।

Leave A Reply