Breaking News
Home / अंतरराष्ट्रीय / रूस में PM मोदी ने कहा- 2024 तक विश्व की आर्थिक महाशक्ति बनेगा भारत

रूस में PM मोदी ने कहा- 2024 तक विश्व की आर्थिक महाशक्ति बनेगा भारत

चैनल हिंदुस्तान डेस्क: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रूस के दौर के आखिरी दिन गुरुवार को पांचवें ईस्टर्न इकोनॉमिक फोरम (EEF) में बतौर मुख्य अतिथि हिस्सा लेने के लिए पहुंचे। पीएम मोदी ने फोरम को संबोधित करते हुए कहा ‘भारत में हम सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वास के साथ आगे बढ़ रहे हैं, 2024 तक भारत को 5 ट्रिलियन डॉलर बनाने के लिए आगे बढ़ रहे हैं।

पीएम मोदी ने कहा ‘भारत और रूस के साथ आने पर विकास की रफ्तार को 1+1= 11 बनाने का मौका है। हाल ही में भारत के कई नेता यहां पर आए और कई विषयों पर चर्चा की।’
उन्होंने कहा कि ‘राष्ट्रपति पुतिन ने इस कार्यक्रम के लिए मुझे भारत में चुनाव से पहले ही निमंत्रण दे दिया था। देश के 130 करोड़ लोगों ने मुझपर भरोसा जताया है। मैंने राष्ट्रपति पुतिन के साथ रूस की प्रतिभा को जानने का मौका मिला। इससे मैं काफी प्रभावित हुआ हूं। भारत और पूर्वी हिस्से का रिश्ता काफी पुराना है, भारत पहला देश है जिसने यहां पर अपना दूतावास खोला है।’

मोदी ने कहा कि सोवियत यूनियन के समय भी भारत-रूस का काफी रिश्ता मजबूत था। व्लादिवोस्तोक दोनों देशों के लिए एक अहम स्थान बना है, भारत ने यहां पर एनर्जी सेक्टर और दूसरे उघयोग में निवेश किया है। पीएम मोदी ने कहा कि व्लादिमीर पुतिन की रूस के सुदूर हिस्से के लिए रुचि काफी ज्यादा है, जो उनकी नीति में झलकती है। पीएम मोदी ने कहा कि भारत कदम से कदम मिलाकर रूस के साथ चलना चाहता है।

इस दौरान राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने कहा कि भारत, चीन, कोरिया, मलेशिया, जापान, मंगोलिया जैसे देशों का हमारे साथ अटूट संबंध है। आने वाले दशकों में एशिया पैसेफिक रीजन के देशों का दुनिया पर काफी बड़ा प्रभाव होगा।

व्लादिवोस्तोक में आयोजित इस कार्यक्रम में रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के साथ जापान, मालदीव, मलेशिया के पीएम भी मौजूद रहें।

इससे पहले यहां प्रधानमंत्री ने भारतीय बिजनेस पवेलियन का दौरा किया। इस दौरान उन्होंने इंडो-रशियन इनोवेशन ब्रिज का उद्घाटन किया। गौरतलब है कि भारत इस फोरम का हिस्सा नहीं है, लेकिन रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के विशेष आमंत्रण पर पीएम मोदी इसमें हिस्सा ले रहे हैं।

इससे पहले उन्होंने जापान के पीएम शिंजो एबी, मलेशियाई प्रधानमंत्री डॉ. महातिर मोहम्मद और मंगोलिया के राष्ट्रपति खाल्तमागिन बत्तुलगा से मुलाकात की। उन्हें आज रूस के सर्वोच्च नागरिक सम्मान ‘ऑर्डर ऑफ सेंट एंड्रयू अपोस्टल’ से भी सम्मानित किया जाएगा। इस सम्मान की घोषणा इस साल अप्रैल में हुई थी।

Spread the love

About desk

Check Also

पाक UN में भारत के खिलाफ 115 पेज का झूठ का पुलिंदा पेश किया

चैनल हिंदुस्तान डेस्क: कश्मीर मसले पर पाकिस्तान ने संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद में भारत के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *