Breaking News
Home / राजनीतिक / सोमनाथ चटर्जी का निधन, लंबी बीमारी से जूझ रहे थे।

सोमनाथ चटर्जी का निधन, लंबी बीमारी से जूझ रहे थे।

डेस्क: पूर्व लोकसभा स्पीकर सोमनाथ चटर्जी लंबे समय से बीमार चल रहे थे। 89 साल की उम्र में उनका निधन हो गया। वे मनमोहन सिंह सरकार में 2004 से 2009 तक लोकसभा के स्पीकर रहे।
सोमनाथ चटर्जी का निधन आज कोलकाता के एक अस्पताल में हो गया। वे कई महिनों से बीमार चल रहे थे, उन्हें किडनी की बीमारी थी।
तबीयत नाजुक होने के बाद बीते 10 अगस्त को उन्हें कोलकाता के अस्पताल में भर्ती कराया गया था। माकपा के पूर्व नेता सोमनाथ चटर्जी 10 बार लोकसभा के सांसद रहे हैं। वे कांग्रेस की अगुवाई वाली यूपीए-1 सरकार में 2004 से 2009 तक लोकसभा के अध्यक्ष रहे थे।

यूपीए-1 के शासनकाल में उनकी पार्टी सीपीएम की ओर से सरकार से समर्थन वापस लिए जाने के बाद उनसे स्पीकर पद छोड़ने को कहा गया था, लेकिन उन्होंने ऐसा करने से मना कर दिया। जिस कारण उन्हें पार्टी से निष्कासित कर दिया गया। चटर्जी सीपीआईएम के केंद्रीय समिति के सदस्य रहे थे, और उन्हें प्रकाश करात के धुर विरोधी के रूप में जाना जाता है।

मोदी, ममता और राहुल ने शोक व्यक्त किया

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शोक व्यक्त करते हुए कहा कि सोमनाथ चटर्जी भारतीय राजनीति का एक दिग्गज थे । उन्होंने हमारे संसदीय लोकतंत्र को अमीर बना दिया और गरीबों और कमजोर लोगों के कल्याण के लिए एक मजबूत आवाज थी।

पश्चिम बंगाल के मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भी शोक व्यक्त करते हुए कहा कि सोमनाथ दा का निधन एक बड़ा नुकसान है।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने उनके निधन पर शोक व्यक्त करते हुए कहा कि वह एक संस्थान थे और पार्टी लाइन से हटकर सभी सांसदों के मन में उनके लिए अपार सम्मान था।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी सोमनाथ चटर्जी के निधन पर दुख जाहिर किया है। केजरीवाल ने कहा कि यह खबर सुनकर बेहद दुखी हूं। उन्हें लोकसभा के सबसे महानतम स्पीकर की श्रेणी में हमेशा याद रखा जाएगा।

Spread the love

About admin

Check Also

प्रधानमंत्री मोदी ने पढ़ाया सांसदों काे पाठ, कहा – भाजपा अपनी विचाराधारा और सोच के कारण आगे बढ़ी

चैनल हिंदुस्तान डेस्क: भाजपा के लोकसभा और राज्‍यसभा सांसदों के लिए शनिवार को दो दिवसीय …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *