Breaking News
Home / राज्य / पश्चिम बंगाल / बेटे ने सोशल मीडिया के माध्यम से आठ दिनों में लापता माँ को खोज निकाला

बेटे ने सोशल मीडिया के माध्यम से आठ दिनों में लापता माँ को खोज निकाला

चैनल हिंदुस्तान डेस्क: पश्चिम बंगाल के राणाघाट थानांतर्गत श्यामनगर ग्राम पंचायत के पंथपाड़ा की रहने वृद्ध महिला को स्वयंसेवी संस्था की मदद से सोशल मीडिया के जरिए बरामद कर लिया गया। उसकी पहचान श्यामली दास (65) के रूप में हुई। वह दिमागी रूप से बीमार बताई जा रही है। वह यह भी नहीं बता पा रही कि क्यों और कहां चली गई थी। बावजूद इसके वृद्धा को पाने के बाद परिवार का हर सदस्य खुश है।

ख़बरों के मुताबिक पंथपाड़ा निवासी श्यामली अपने पति और बेटे सुभाष दास के साथ रहती थी। पर मानसिक संतुलन ठीक नहीं होने के कारण एक ही घर में रहने के बावजूद पति-बेटे के अलग-थलग रहती थी। बेटे सुभाष की मानें तो बिना किसी को बताए उसकी मां गत 19 फरवरी की दोपहर दो बचे अचानक घर से कहीं चली गई थी।

वह घर लौटने पर मां को न पाकर उनकी काफी तलाश की पर वो नहीं मिली। उसी दिन शाम को सुभाष ने थाने में मां श्यामली के लापता होने की शिकायत दर्ज कराई। उसने रेल पुलिस से भी संपर्क कर शिकायत दर्ज कराई। एक दिन सुभाष ने सोशल साइट पर मां की तस्वीर देखा, जिसे एक स्वयंसेवी संस्था ने अपलोड की थी।

उसमें श्यामली चाकदा के किसी गांव में स्थित एक घर के बरामदे में चहलकदमी करती दिख रही है। सुभाष ने स्वयंसेवी संस्था द्वारा दिए नंबर पर संपर्क किया। इसके बाद संस्था वाले ही श्यामली को वापस सुभाष के पास छोड़ गए। इसके लिए सुभाष ने संस्था के सदस्यों को धन्यवाद दिया।

उधर संस्था के सदस्यों ने बताया कि वृद्धा के मिलने के बाद सबसे पहले उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया। हालांकि वो वहां से भी कहीं चली गई। पर गत मंगलवार को चाकदह के घुघिया इलाके से श्यामली को दोबारा बरामद कर लिया गया।

Spread the love

About desk

Check Also

बीएसएफ ने अंतराष्ट्रीय सीमा पर तस्करों के मनसूबों को किया नाकाम 

कोलकाता: सीमा सुरक्षा बल को मिली खुफिया विभाग से जानकारी के अनुसार नशीली सामानो की …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *